2017-02-26

दर्जी सम्मेलन शामगढ़ -2017 (पार्ट 3)

                             ॐजय गुरु दामोदराय नम:
     अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे शामगढ़ ,मध्य प्रदेश मे दामोदर क्षत्रीय दर्जी समाज का नवम समूह विवाह उत्सव 5/2/2017 को अत्यंत हर्षोल्लास के साथ सम्पन्न हुआ|इस समूह विवाह उत्सव मे 14 नवल युगल परिणय बंधन मे बंधे|परिणय संस्कार गायत्री विधि विधान से संपन्न कराये गए|

2017-02-24

दर्जी सम्मेलन शामगढ़-2017((भाग 1): विडियो// Darji Sammelan Shamgarh-2017 (part 1)Video

                                  ॐजय गुरु दामोदराय नम:
अखिल भारतीय दानोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे शामगढ़ नगर मे मे दामोदर वंशीय दर्जी समाज का 9 वां सामूहिक विवाह उत्सव 5/2/2017 को आयोजित किया गया| इस सम्मेलन मे 14 नव युगल परिणय बंधन मे बंधे| निम्न विडो मे सहयोगकर्ता महानुभाओं के नाम भी प्रकाशित किए गए हैं|

2017-02-23

दामोदर दर्जी सम्मेलन शामगढ़ -2017 का हिसाब

                                        ॐ जय गुरु दामोदराय नम:
आदरणीय दर्जी बंधुओं ,
अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे दिनांक 5/2/2017 को शामगढ़ नगर मे  दर्जी समाज का विराट सामूहिक विवाह सम्मेलन अपनी सम्पूर्ण भव्यता के साथ सानंद सम्पन्न हुआ | सम्मेलन का आय व्यय विवरण और आभार प्रदर्शन पत्रिका आपके सामने प्रस्तुत की जा रही है|
हिसाब पेज क्रमांक 1


हिसाब पेज क्रमांक 2 



हिसाब पेज क्रमांक 3 


हिसाब पेज 4 



हिसाब पेज 5



हिसाब पेज  6 


2017-02-17

दर्जी सम्मेलन शामगढ़-2017 मे हरदीपसिंह जी डंग, विधायक सुवासरा का सम्मान

  श्री गणेशायनम:                                                                 ॐजय गुरु दामोदरायनम:
   
अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले  दामोदर वंशीय नए गुजराती दर्जी समाज के नवम सामूहिक विवाह सम्मेलन मे पधारे विशिष्ट अतिथि श्री हरदीप सिंहजी डंग का साफा बंधवाकर  ,शाल भेंट कर स्वागत ,सम्मान किया गया|

दामोदर दर्जी सम्मेलन शामगढ़ -2017 मे सहयोगी बंधुओ का सम्मान समारोह

श्री गणेशायनमा:                                                                                     ॐजय गुरु दामोदराय नम:
                                            :
अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले दामोदर क्षत्रीय दर्जी समाज के नवम समूह विवाह उत्सव मे विशिष्ट व्यक्तियों का साफा बंधवाकर और शाल भेंट कर सम्मान स्वागत किया गया |सम्मानित सज्जनों के नाम - कमल किशोर जी मकवाना नीमच,रमेशजी पँवार शामगढ़,नंदरामजी सोलंकी गरोठ,बालचंदजी राठौर कुंभकोट ,मांगीलाल जी पँवार शामगढ़,,दिनेशजी पँवार खजूरी पंथ जगदीशजी चौहान नीमच ,वरदीचंद जी सोलंकी बरडीया इस्तमुरार,घनशाम जी राठौर सरपंच भानपुरा ,गंगारामजी चौहान शामगढ़ |विडियो देखें-

ddayaram.blogspot.com +13 अधिक

Darji sammelan samman samaroh Shamgarh 2017 विडियो

     श्री गणेशायनम:                                                                                              ॐ जय गुरु दामोदरायनम:
                                           

अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले दामोदर वंशीय नए गुजराती दर्जी समाज के नवम सामूहिक विवाह सम्मेलन ,शामगढ़-2017   मे  विशिष्ट व्यक्तियों का साफा बंधवाकर ,शाल भेंट कर सम्मान किया गया ||विडियो देखें-

दामोदर दर्जी सम्मेलन मे विशिष्ट अतिथि सम्मान समारोह,शामगढ़-2017

श्री गणेशायनम::                                                                                    ॐ जय गुरु दामोदरायनम:
                                         
अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे दामोदर वंशीय दर्जी समाज के नवम सामूहिक विवाह उत्सव ,शामगढ़ ,2017, मे विशिष्ट अतिथियों का सम्मान समारोह |इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि जिला बीजेपी अध्यक्ष श्री देवीलाल जी धाकड़, पूर्व विधायक श्री राधेश्याम जी पाटीदार ,नगर परिषद अध्यक्ष श्री अर्जुनलाल जी सोनी,एवं मण्डल बीजेपी अध्यक्ष श्री सतीश जी खुराना का साफा बंधवाकर ,शाल भेंट कर सम्मान किया गया |
ddayaram.blogspot.com +13 अधिक

दर्ज़ी समूह विवाह उत्सव 2017, शामगढ़ मे डॉ॰आलोक का उद्बोधन/विडियो

   श्री गणेशायनम:                          :                                     ॐजय गुरु दामोदरायनम:
                                                     
    अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे शामगढ़ नगर मे आयोजित दामोदर वंशीय नए गुजराती दर्जी समाज के नवम सामूहिक विवाह उत्सव 2017,मे डॉ॰आलोक एवम डॉ॰ चौहान के उद्बोधन|



2017-02-13

Damodar darji mass marriage function Shamgargh -2017 video

श्री गणेशायनम:                                                                                                 ॐ जय गुरु दामोदरायनम:
                                                       :      

अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ  के बेनर तले दामोदर वंशीय  नए गुजराती दर्जी समाज का नवां  सामूहिक विवाह  उत्सव ,2017,शामगढ़ ,मध्य प्रदेश  मे  आयोजित किया गया | इस सामूहिक विवाह आयोजन मे 14 जोड़े सम्मिलित हुए| सम्मेलन का विडियो प्रस्तुत है-

Shri Devilalji dhakad,bjp leader in damodar darji sammelan shamgarh 2017


    अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले आयोजित  नए गुजराती दर्जी समाज के  नवम समूह विवाह  उत्सव  शामगढ़ ,2017,मे जिला बीजेपी अध्यक्ष श्री देवीलाला जी धाकड़ का  उद्बोधन॰

2017-02-12

दामोदर दर्जी सम्मेलन शामगढ़ , 2017, मे श्री सतीशजी खुराना का सम्मान

अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले आयोजित दर्जी समाज के नवम सामूहि विवाह सम्मेलन मे अध्यक्ष श्री आलोकजी ने बीजेपी मण्डल अध्यक्ष श्री सतीशजी खुराना का शाल ,साफा से समान किया |

2017-02-11

रोहिल्ला दर्जी समाज और गौत्र संबंधी जानकारी

   रोहिला-राजपूत” समाज , क्षत्रियों का वह परिवार है जो सरल ह्रदयी, परिश्रमी,राष्ट्रप्रेमी,स्वधर्मपरायण,
स्वाभिमानी व वर्तमान में अधिकांश अज्ञातवास के कारण साधनविहीन है। 40 प्रतिशत कृषि कार्य से,30
प्रतिशत श्रम के सहारे व 30 प्रतिशत व्यापार व लघु उद्योगों के सहारे जीवन यापन कर रहे हैं। इनके
पूर्वजो ने हजारों वर्षों तक अपनी आन, मान, मर्यादा की रक्षा के लिए बलिदान दिए हैं और अनेको
आक्रान्ताओं को रोके रखने में अपना सर्वस्व मिटाया है ।
यह सवर्विदित है और वेद पुराणों में उल्लिखित है कि हिन्दू समाज में चार वर्ण व्यवस्थाएं है जो इस प्रकार है – ज्ञान वर्द्धक और ज्ञानोपदेश तथा शिक्षा का कार्य करने वाले -ब्राह्रम्ण, कारोबार – व्यवसाय का कार्य करने वाले – वैश्य, वीरता के साथ युद्ध में देश-समाज की रक्षा करने वाले – क्षत्रिय तथा निम्नतर अर्थात मल-मूत्र आदि के कार्य में संलग्न को – शूद्र कहा जाता है । इस प्रकार समाज को चार वर्ग जातियों में पहचाना जाने लगा । तदंतर और अन्य कारोबार और निम्नतर कार्य के बीच के कार्य करने वाले समाज ने लोगों को उसकी कार्य विशेष से जाति सूचक माना जाने लगा ।
कालांतर में मुसलमानों के आक्रमण और उनके द्वारा किए गए अत्याचार के कारण बहुत सारे हिन्दू रोहिला-टांक क्षत्रिय बचकर कही छिप गए और उन्होंने अपने भरण-पोषण तथा अस्मिता को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए छोटे-छोटे कुटीर उद्योग, समाज के हितार्थ छोटे कार्य अपना लिए जिसके चलते शेष हिन्दू-रोहिला-टांक क्षत्रिय ने दर्जी, कपड़ों की छपाई-रंगाई इत्यादि कारोबार को अपना लिया । इसके साथ छोटे-छोटे गांवों, कस्बों, शहरों में इस व्यवसाय-कारोबार के नाम पर ही जांत-पांत स्थापित होती चली गई और वे अब पूरी तरह से प्रचलन में है । उसी जाति के अनुसार हिन्दू समाज के लोगों की एक बड़ी पहचान बन चुकी है जिसको कोई भी नहीं नकार सकता है और न ही कोई अपने आपको छिपा सकता है।
इसी कड़ी में दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, पंजाब, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में से रोहिला-टांक समाज के मूल निवासियों को अपने पूर्वजों से जो संस्कारवश पहचान मिली है उसे वे बिल्कुल भी छोड़ने के लिए तैयार नहीं है ।
रोहिलखण्ड से विस्थापित इन रोहिला परिवारों में राजपूत परम्परा के कुछ प्रमुख गोत्र इस प्रकार पाए
जाते हैं :-
रोहिला, रोहित, रोहिल, रावल, द्रोहिया, रल्हन, रूहिलान, रौतेला , रावत ,यौधेय, योतिक, जोहिया, झोझे, पेशावरी
पुण्डीर, पांडला, पंढेर, पुन्ड़ेहार, पुंढीर, पुंडाया ,चौहान, जैवर, जौडा, चाहल, चावड़ा, खींची, गोगद, गदाइया, सनावर, क्लानियां, चिंगारा, चाहड बालसमंद, चोहेल, चेहलान, बालदा, बछ्स (वत्स), बछेर, चयद, झझोड, चौपट, खुम्ब, जांघरा, जंगारा, झांझड ,निकुम्भ, कठेहरिया, कठौरा, कठैत, कलुठान, कठपाल, कठेडिया, कठड, काठी, कठ, पालवार
राठौर, महेचा, महेचराना, रतनौता, बंसूठ जोली, जोलिए, बांकटे, बाटूदा, थाथी, कपोलिया, खोखर, अखनौरिया ,लोहमढ़े, मसानिया ,बुन्देला, उमट, ऊमटवाल ,भारतवंशी, भारती, गनान ,नाभावंशी,बटेरिया, बटवाल, बरमटिया ,परमार, जावडा, लखमरा, मूसला, मौसिल, भौंसले, बसूक, जंदडा, पछाड़, पंवारखा, ढेड, मौन ,तोमर, तंवर, मुदगल, देहलीवाल, किशनलाल, सानयाल, सैन, सनाढय ,गहलौत, कूपट, पछाड़, थापा, ग्रेवाल, कंकोटक, गोद्देय, पापडा, नथैड़ा, नैपाली, लाठिवाल, पानिशप, पिसोण्ड, चिरडवाल, नवल, चरखवाल, साम्भा, पातलेय, पातलीय, छन्द (चंड), क्षुद्रक,(छिन्ड, इन्छड़, नौछड़क), रज्जडवाल, बोहरा, जसावत, गौर, मलक, मलिक, कोकचे, काक ,कछवाहा, कुशवाहा, कोकच्छ, ततवाल, बलद, मछेर ,सिसौदिया, भरोलिया, बरनवाल, बरनपाल, बहारा ,खुमाहड, अवन्ट, ऊँटवाल,सिकरवार, रहकवाल, रायकवार, ममड, गोदे ,सोलंकी, गिलानिया, भुन, बुन, बघेला, ऊन, (उनयारिया),बडगूजर, सिकरवार, ममड़ा, पुडिया ,कश्यप, काशब, रावल, रहकवाल ,यदु, मेव, छिकारा, तैतवाल, भैनिवाल, उन्हड़, भाटटी बनाफरे, जादो, बागड़ी, सिन्धु, कालड़ा, सारन, छुरियापेड, लखमेरिया, चराड, जाखड़, सेरावत, देसवाल, पूडिया.

टांक दर्जी गोत्रावली



टाँक दर्जी समाज मे निम्न गौत्र प्रचलित हैं-

टांक गोत्रावली

1.टांक 2. कटोड़े 3. तोलमिया 4. मोयल 5. खत्ती 6. गाधे 7. झांकल 8. ढ़ाडिया 9. रामरिखा 10. घोसला 11. डिडवाणिया 12. नगथला 13. रोदेला 14. चिडवाल 15. मींढ़ 16. नथिया/नथैया 17. पाण्डला 18. लोहारिया 19. डगरोल 20. डोलिया 21. नेदिया 22. ठुवां 23. देद 24. पुनफेर 25. अगरोइया 26. लोदा 27. रतन 28. रोहला 29. जासल 30. पोखरया 31. कायथ/कैंथ 32. बराह 33. सरवा 34. सागू 35. बागड़ी 36. पातलिया 37. सारन 38. बरनवाल 39. अपूर्वा 40. खुरया 41. नागी 42. ठाड़ा 43. 44. गनमानी 45. गोटवाल 46. कैलानी 47. तथगुरू 48. बामरनिया 49. टूहानिया 50. हरगन 51. झेडव 52. खारनोखिया 53. वेदी 54. फरेरी 55. छपरवाड़ 56. महर 57. भूरया 58. बूला 59. सकरवाल 60. बडीवाल 61. कीजड़ा 62. 63. मूसला 64. बाटू 65. मंगलोनिया 66. कावेला 67. रोलाना 68. दागंडा 69. रोदेला 70. नथिया/नथैया

Damodar darji group marriage utsav ,Boliya,2010 (part 3)

अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे बोलिया नगर मे दर्जी समाज का निशुल्क समूह विवाह उत्सव 13/4/2010 को आयोजित किया गया|सम्मेलन का वित्तपोषण अध्यक्ष डॉ॰दयाराम आलोक शामगढ़ द्वारा किया गया|निम्न विडियो मे सहयोग देने वाले महानुभाओं के नाम भी प्रकाशित किए गए हैं|

Damodar darji mass marriage function Boliya ,2010 (part 1)



अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे बोलिया नगर मे दर्जी समाज का निशुल्क समूह विवाह उत्सव 13/4/2010 को आयोजित किया गया|सम्मेलन का वित्तपोषण अध्यक्ष डॉ॰दयाराम  आलोक द्वारा  किया गया|

Damodar Darji Samuhik Vivah Utsav ,Boliya-2010 (part 2)विडियो


अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले दामोदर वंशीय  दर्जी समाज का निशुल्क सामूहिक विवाह उत्सव 2010 मे बोलिया ग्राम मे आयोजित किया गया| सम्मेलन का वित्त पोषण अध्यक्ष डॉ॰दयारामजी आलोक,शामगढ़ द्वारा किया गया|इस सम्मेलन को आर्थिक सहयोग देने वाले महानुभाओं के नाम भी विडियो मे प्रकाशित किए गए हैं|

Damodar Darji mass marriage function Boliya,2010

   अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ के बेनर तले नए दर्जी समाज का प्रथम निशुल्क सामूहिक विवाह उत्सव बोलिया नगर मे 13/4/2010 को आयोजित किया गया| वित्त पोषण सम्मेलन के अध्यक्ष डॉ॰दयाराम आलोक शामगढ़ ने किया|विडियो प्रस्तुत है-

2017-02-10

दामोदर वंशीय दर्जी समाज का प्रथम सामूहिक विवाह सम्मेलन ,रामपुरा 1981


श्री गणेशायनम:                                                                                 ॐजय गुरु दामोदराय नम:
                  अखिल भारतीय दामोदर दर्जी महासंघ द्वारा आयोजित
                                                   


    
दामोदर वंशीय दर्जी समाज का प्रथम सामूहिक विवाह उत्सव                  
                रामपुरा नगर मे दिनांक 9 मई से 11 मई 1981
                         
 आय-व्यय और आभार प्रदर्शन पत्रिका
सम्मेलन की आय के प्रमुख मद निम्न हैं-
विवाह शुल्क 6 जोड़े 750 रुपए प्रति पक्ष से    9012/-
सम्मेलन समिति को दर्जी बंधुओं का आर्थिक सहयोग 545/-
धोरी कलश बोली के 528/-
जल कलश बोली के 440/-
कन्यादान की राशि 846/-
सम्मेलन की बचत सामग्री बेचने से आय 469/-
इस प्रकार सभी मदों का महायोग रुपए 11840/- समिति को प्राप्त हुए|
आय का ब्योरा निम्नवत है-
डॉ॰दयाराम आलोक शामगढ़ (रामपुरा) १७९६/-


जगदीशजी चौहान नीमच १५६४/-


कन्हैयालालजी पँवार रामपूरा ८३१/-
लक्ष्मणजी चौहान मनासा ८२९/-

बाबूलाल जी पिता लक्षमण जी मनासा


कन्हैयालाल जी पँवार टेलर डग ८१७/-
सुरेशजी पिता कन्हैयालाल जी 
मोहनलालजी सोलंकी रामपुरा ८०२/-
कन्हैयालाल जी मकवाना रामपुरा ८०२/-


मदनलालजी काशीरामजी बाबुल्दा ७७९
देवीलालजी चौहान टकरावद ७७९/-

भरतजी पिता देवीलालजी
अमृतरामजी कड़ोडिया ७६२/-
अजय जी पौत्र अमृतरामजी

रामचंदरजी मकवाना रामपुरा ३२२/-

भँवरलाल जी मकवाना रामपुरा ११७/-


गोरधन लाल जी सोलंकी मनासा १०२/-


रामचंदरजी चौहान मनासा ६८/-

दामोदर दर्जी महासंघ ६६/-
कंवरलाल जी मकवाना रामपुरा ६३/-
रोडीलालजी पिता कँवर लालजी 
मोहनलाल जी मकवाना उज्जैन ५८/-
मोहनलालजी  के पिता कन्हैयालालजी
भेरुलाल जी चौहान सुवासरा ४१/-
राम नारायणजी पिता भेरूजी चौहान 

मदनलाल जी  मकवाना पिपल्या स्टेशन ३३/-
कमल किशोर जी पिता मदन लाल जी 
मकवाना क्लब रामपुरा ३०/-
रामगोपालजी पँवार नीमच २३/-


दीलीप जी पिता राम गोपाल जी 
सोहनलालजी सीसोदिया मेलखेड़ा २२/-

सीताराम जी संतोषी शामगढ़ २२/-
छगनलालजी भवानी मंडी २२/-
राजेन्द्रजी पिता छगन लाल जी 
रामचंदरजी चौहान नारायणगढ़ १९/-
नरेन्द्रजी पिता रामचंद्र जी 


रतनलाल जी पँवार खजूरी जोरावर १७/-
घनशामजी पंवार 
नागुलाल जी चौहान झारडा १७/-
गोपाल पिता नागुलालजी
नंदराम जी सोलंकी ढाकनी १७/-

मोहनलाल जी मकवाना चुनाकोठी १७/-
अरविन्दजी पिता मोहनलालजी
मोहनलाल जी पँवार फुलवारी रामपुरा १७/-

रामनिवासजी मकवाना रामपुरा १७/-

बदरीलालजी मकवाना कुंडला १७/-
रूपचद जी पिता बदरी लालजी
समिति को सहयोग देने वाले दर्जी बंधुओं के अन्य नाम इस प्रकार हैं-
१२/- कन्या दान देने वालों के नाम -
अमृतरामजी कड़ोदिया
सालगरामजी पँवार कनवाड़ा
मोहनलाल पिता सालगरामजी
अर्जुनलालजी मकवाना रामपुरा
गुजराती दर्जी युवक संघ शामगढ़
गंगाराम जी चौहान सुसनेर

गनपतजी सोलंकी भवानी मंडी

राधेशामजी मकवाना रामपुरा

देवबक्षजी रामपुरा
माणकलालजी खजूरिया सारंग

सोहन लाल जी  रामपुरा
प्रेस क्लब डग
रामचंदरजी रामपुरा

मथुरालालजी मकवाना रामपुरा

रामनारायन जी चौहान शामगढ़
बालमुकंदजी मकवाना रामपुरा
भँवरलाल जी सीसोदिया मेलखेड़ा

रतनलाल जी सोलंकी नीमच
११/- का सहयोग देने वाले दर्जी बंधुओं के नाम
देवीलाल जी चौहान भवानी मंडी

उदेराम जी राठौर सुवासरा
राधेश्याम पिता उदेरामजी 
राधूजी राठौर भमेसर
वरदीचंद्जी पँवार आवर
सागरमलजी पँवार नागदा

६/- कन्यादान देने वालों की सूची
बापुलालजी माकवाना रामपुरा
शिवजी सोनी रामपुरा
गोकुलजी मकवाना रामपुरा

मोहनलालजी राठौर रींछा देवड़ा
गंगारामजी परमार बाबुल्दा

शिवनारायंजी रामपुरा
हुकमचंदजी बैरागी रामपुरा
पाँच रुपए समिति को सहयोग देने वालों के नाम -
शिवशंकरजी मंदसौर
राधेशाम जी मकवाना रामपुरा
शांतिलालजी चौहान नारायणगढ़
मोहनलाल जी अध्यापक मनासा
राधाकिशनजि चौहान गुडभेली
देवीलालजी परमार खार खेड़ा
रामनारायनजी परमार पाटन
नानालालजी मकवाना बरड़िया अमरा
गोरधनलालजी गुड्भेली
कन्हैयालालजी गुराडीया नरसिंग
मोहनलाल जी सोलंकी ढाकनी
मदनलालजी सोलंकी ढाकनी
किशनलाल जी ढाकनी
शंकर लाल जी अरनोद
रामलाल जी हतुनिया
भेरुलाल जी राठौर खजूरिया सारंग
रामचंदरजी सीसोदिया शामगढ़
मांगीलाल जी भवानी मंडी
पाँच रुपए जल कलश के देने वालों की सूची-
बापुलाल जी रामपुरा
शिवशंकरजी मंदसौर
राधेशांमजी मकवाना रामपुरा
शांतिलाल जी नारायणगढ़
काशीराम जी बाबूल्दा
बंशीलाल जी रामपूरा
मांगीलाल जी सोलंकी खडावदा
गोविंदजी मकवाना रामपुरा
शंकर लाल जी सोलंकी उमरिया
भवनीराम जी पँवार कनवाड़ा
दो रुपये समिति को सहयोगकर्ताओं की सूची
काशीरामजी बाबूल्दा
फकीरचंदजी नारायण गढ़
गिरधारीलाल जी सुसनेर
शांतिलाल जी चौहान नीमच
कन्हैया लाल जी परमार नारायणगढ़
शंभलाल जी सोलंकी अंतरालिया
सम्मेलन के बचे हुए सामान को बेचने से आय ४६९/-
सम्मेलन की कुल आय का महायोग ११८४०/-


सम्मेलन हेतु खर्च का विवरण नीचे दिया गया है-
भोजन एवं लकड़ी बिल क्रमांक 1 से 11 =3695/-

बिल मूल रूप मे प्रस्तुत है -






















मिर्ची  4 किलो का बिल 



गरम मसाला का बिल 





मसाला बिल 


शकर एक क्विंटल का बिल 815/-











टेंट जनरेटर सजावट बिल क्रमांक 12 से 22 =536/-






















सम्मेलन मे जनरेटर का बिल 

















डायचा व आभूषण बिल 23 से 25 =2537/-








रकम गहनों का बिल 


डायचा बिल 

डायचा बिल 

डायचा बिल 







































सम्मेलन मे बैंड  का बिल 





छपाई व स्टेशनरी बिल नंबर 27 से 31 = 351/-



















href="https://2.bp.blogspot.com/-9fEeKadD3lI/WVyF8RlY3AI/AAAAAAABAQI/GUDodF2DrrMO1ni7LIDu1IrVFbtut8nCgCLcBGAs/s1600/bill%2B29%2B.jpg" imageanchor="1" style="margin-left: 1em; margin-right: 1em;">









प्रकाश व्यवस्था बिल नंबर 32 से 37 =328/-
























जन संपर्क बिल (किराया खर्च)

ओसवाल नेहरा किराया मय बिजली बिल 38क = 242/-


जन सम्पर्क किराया खर्च बिल नंबर 38 ख =135/-




 

लाऊडस्पीकर बिल क्रमांक 39क = 65/-



धोरी कलश जलकलश मटके बिल क्रमांक 39ख=120/-





फुटकर खर्च बिल 40 से 71 =1180.25
























Bill 46 




























































































































कन्यादान प्रत्येक जोड़े को 141/- दिये बिल 78 =846/-



फोटोग्राफी बिल: क्रमांक 79 = 258/-




सम्मेलन की कथा व भोजन बिल क्रमांक 80 =232/-





खर्च का महा योग 11005/-
सम्मेलन की आय = 11840/-
सम्मेलन खर्च = 11005/-
सम्मेलन की बचत =834/-

नोट-सम्मेलन के खर्चे के उक्त बिल कोशाध्यक्ष श्री रामचन्द्र जी मकवाना रामपुरा द्वारा प्रधान सचिव डॉ॰आलोक को प्रस्तुत किए गए  और श्री आलोक ने यह हिसाब तैयार कर वेब साईट पर डाला||इतना पारदशिता पूर्ण और साफ सुथरा हिसाब  समाज के सामने प्रस्तुत करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद ,आभार!
यह बचत राशि सम्मेलन के अध्यक्ष व कोशाध्यक्ष के नाम से स्टेट बेंक आफ इंदौर रामपुरा मे जमा कर दी गई है|
उपरोक्त आय और व्यय का हिसाब कोशाध्यक्ष द्वारा प्रस्तुत आय की रसीदें और खर्च के बिल के आधार पर प्रधान सचिव डॉ॰दयाराम आलोक द्वारा तैयार किया गया |
प्रथम सामूहिक विवाह सम्मेलन मे जिन जोड़ों के विवाह सम्पन्न हुए हैं समिति उनके प्रति विशेष आभार मानते हुए उनके मंगल भविष्य की कामना करती है|


 

प्रस्तुत है सामूहिक विवाह मे सम्मिलित जोड़ों की सूची-

1 ऊषा कुमारी पिता कन्हैया लाल जी पँवार रामपुरा 

संग
 बाबूलाल पिता लक्ष्मणजी चौहान मनासा
2॰शीला कुमारी पिता जगदीश चंदर जी चौहान नीमच

 संग 
अनिलकुमार पिता दयाराम जी आलोक शामगढ़-रामपुरा
3॰छाया कुमारी पिता दयाराम जी आलोक शामगढ़-रामपुरा 

संग
 सुरेश कुमार पिता कन्हैयालाल जी पँवार डग
4॰लीला कुमारी पिता जगदीश जी चौहान नीमच 

 संग 
भरत कुमार पिता देवीलाल जी चौहान टकरावद
5॰पुष्पा कुमारी पिता अमृतराम जी कड़ोदिया 

संग 
जगदीश चंद्र पिता कन्हैयालाल जी मकवाना रामपुरा
6॰संतोष कुमारी पिता मोहन लाल जी सोलंकी रामपुरा 

संग 
सत्यनारायण पिता मदन लाल जी परमार बाबूल्दा
दामोदर दर्जी महासंघ के तत्वावधान मे डॉ॰दयाराम जी आलोक के नेतृत्व मे सम्पन्न प्रथम सामूहिक विवाह सम्मेलन की अपार सफलता से प्रेरणा लेकर दर्जी समाज मे आगे भी ऐसे ही सम्मेलन आयोजित करने की चर्चें चलना स्वाभाविक है|हमने पूरे मध्य प्रदेश मे सबसे पहिले सम्मेलन आयोजित करने का आगाज कर दिया है| इसके पहिले मध्य प्रदेश मे किसी भी समाज मे कोई सामूहिक विवाह सम्मेलन नहीं हुआ है|
                                                               * विनीत*
    अध्यक्ष                                        कोषाध्यक्ष                                  प्रधान सचिव
राम गोपाल मकवाना                                 
रामचंद्र मकवाना                                    डॉ॰दयाराम आलोक