2010-07-27

बच्चों के प्यारे ,गरीबों के मसीहा डॉ. अलौकिक जी का व्यक्तित्व






अगडताल जैसी अमर काव्यकृतियों के प्रणेता,बच्चों के प्यारे गरीबों के मसीहा डॉ.लक्ष्मी नारायण अलौकिक  का दिनांक २४ जुलाई २०१० को हृदयाघात से आकस्मिक निधन हो गया। वे ७५ वर्ष के थे। उनका पार्थिव शरीर भवानीमंडी के एस के हास्पिटल से शामगढ लाने पर शहरवासियों में शोक की लहर दौड गई। उनके चाहने वाले सैंकडों लोग अलौकिक निवास पर आने लगे। अंतिम यात्रा में हजारों व्यक्ति शामिल हुए।मुक्तिधाम में आयोजित शोक सभा में नगर के विशिष्ट व्यक्तियों ने डॉ,अलौकिक के विराट  व्यक्तित्व पर अपने विचार प्रकट करते हुए उन्हें भाव भीनी श्रद्धांजलि अर्पित की।





   डॉ.अलौकिक बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे। अपनी लेखनी से स्वास्थ्य और हास्य-व्यंग की अनेकों  रचनाओं का सृजन करने वाले डॉ.अलौकिकजी का जीवन एक महात्मा का जीवन था। सादा जीवन और उच्च विचार के वे आदर्श प्रतिरूप थे।गणित के मनोरंजक खेल रचने में शायद ही उनका कोई सानी हो। उनका दिमाग कम्प्यूटर की तरह तेज रफ़्तार वाला था।
       वे प्रोपर्टी का काम करते थे। गरीब लोगों का अपना खुद का मकान हो,यह उनके जीवन का प्रमुख लक्ष्य  था । इसके लिये वे नित्य ऐसे लोगों के संपर्क में रहते थे जिनका अपना ्खुद का मकान न हो। आर्थिक कठिनाईयों से जूझते लोगों को वे २०० से ५०० रुपये महीने की किश्त पर प्लाट देते थे। इतनी सुविधाजनक प्लाट बिक्री के तहत शामगढ में उनकी बसाई कालोनियों के लोग उनके प्रति कृतज्ञता प्रकट करने में कोई कसर नहीं छोड रहे हैं।
      डॉ.  अलौकिक बच्चों को बेहद प्यार करते थे। इस प्यार का इजहार करने का उनका तरीका भी अनोखा था। वे बाजार से १०० रुपये के नोट के बदले ९० रुपये की चिल्लर लाते थे। जैसे ही वे किसी बस्ती  से गुजरते तो छोटे बच्चे घरों से निकलकर  अलौकिकजी  पैसे मांगते थे और वे किसी को निराश नहीं करते थे।यह सिलसिला नित्य जारी रहता था। उनके निधन का बडों के बजाय शायद बच्चों को ज्यादा आघात लगा है। शक्ल-सूरत कद काठी से वे एकदम दार्शनिक  की तरह लगते थे।बिना  प्रेस किये कमीज पाजामा पहिनते थे। ५-६ इंच लंबे बाल,जिनमें वे कभी कंघा इस्तेमाल नहीं करते थे। तडक-भडक ,दिखावे से कोई वास्ता नहीं।

      डॉ..अलौकिकजी मौसर प्रथा के घोर विरोधी थे। उनकी पुत्री माया को उन्होने मृत्युपूर्व कहा था कि मेरे मरने के बाद मौसर का आयोजन न किया जाये। उतना धन दान धर्म में लगाना उचित होगा। लेकिन रूढीवादी दर्जी समाज के दवाब में घर के सदस्यों को मौसर करने का निर्णय लेना पडा।


     डॉ..अलौकिकजी के निधन से समाज और साहित्य जगत की अपूरणीय क्षति हुई है। मै ऐसी महान आत्मा को हृदय से श्रद्धा सुमन भेंट करते हुए कोटि-कोटि प्रणाम करता हूं।

2010-07-08

दामोदर दर्जी समाज के बढते कदम

                    चौमहला में श्री मकवाना अध्यक्छ बने.
विगत दिनों दर्जी समाज के मंदिर में एक मीटिंग रखी गई जिसमें स्थानीय कार्य कारिणी का गठन किया गया। एक उत्सव समिति का भी गठन किया गया। निम्न सदस्यों को पद दिये गये-
अध्यक्छ-    श्री राम बाबू मकवाना.
उपाध्यक्छ-  श्री श्यामलाल राठोर
कोषाध्यक्छ- श्री राजमल उमठ
सह कोषाध्यक्छ- श्री पुरुषोत्तम परमार
व्यवस्थापक- श्री रामचरण सिसोदिया
संगठन मंत्री - श्री बाबूलाल उमठ
सह सचिव - श्री चुन्निलाल परमार
संरक्छक श्री बद्रीलाल परमार बनाये गये।
   कार्यकारिणीके अन्य सदस्य निम्नवत हैं-
दौलतरामजी,कालूरामजी सौलंकी,पारसमलजी,द्वारकालालजी,,रमेश्चंद्रजी मकवाना,राधेशामजी,मांगीलालजी,कैलाश चंद्रजी,शिवनारायणजी,बाबूलालजी,कालूरामजी सौलंकी एवं कृष्ण चंद्रजी अध्यापक.
      दामोदर दर्जी महासंघ के संचालक डा.आलोक दयाराम ने चौमेहला दर्जी समाज की नव गठित समिति के पदाधिकारियों और सदस्यों को बधाई दी है और उम्मीद जाहिर की है कि नई समिति के नेतृत्व में समाज तेजी से प्रगति करेगा।


------------------------------------------------------------------------------------------
कोद के श्री परमार को सुयश
बदनावर तेहसील के अंतर्गत कोद के महेशजी परमार(जूली टेलर) के सुपुत्र राहुल परमार ने मेट्रिक बोर्ड के इम्तहान में ८२ प्रतिशत अंक प्राप्त कर सभी विषयों में विशेष योग्यता हासिल की। राहुल के मित्रों और परिवारजनों ने इस सफ़लता पर बधाई दी है। राहुल अपने विद्द्यालय और समाज का नाम ऊंचा किया है। फ़ोटो भेजेंगे तो वेब साईट पर लगाया जाएगा।
-----------------------------------------------------------------------------------------
                शामगढ की मौनिका राठौर को सुयश.
श्री दिलीप कुमार राठौर,देशभक्त इलेक्ट्रोनिक्स,शामगढ की सुपुत्री मौनिका राठौर को बी एस सी मेथेमेटिक्स थर्ड सेमिस्टर में ७७% अंक प्राप्त हुए। आप सवितादेवी जायसवाल महाविद्द्यालय की छात्रा हैं। इस शानदार सफ़लता पर दादाजी  रामचंद्रजी,पापा,मम्मी,और मौनिका की सहेलियों ने बधाई दी है। महाविद्यालय स्टाफ़ ने भी मौनिका की सफ़लता को सराहा है। लडकियों की ऐसी सफ़लता से दामोदर दर्जी समाज का गौरव बढता है। महासंघ के डा.आलोक दयाराम ने मौनिका को बधाई देते हुए उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।
--------------------------------------------------------------------------

पानबिहार की मौनिका चौहान को सुयश
     रमेश चंद्रजी चौहान ,तहसील घटिया जिला उज्जैनकी पौत्री एवं ओम प्रकाशजी  की सुपुत्रा मौनिका ने हाई स्कूल १० वीं बोर्ड की परीक्छा में ७८% अंक प्राप्त किये और अंग्रेजी विग्यान और गणित विषयों में डिस्टिंक्शन हासिल किया।  मौनिका की इस शानदार सफ़लता पर  परिवार जनों और विद्द्यालय स्टाफ़ ने बधाई दी है।
     कृपया फ़ोटो भेजें।पता है--डा.आलोक दयाराम,बोलिया,तेहसील,garoth,जिला मंदसौर पिन कोड-४५८-८८०----------------------------------------------------------------------
श्री सिसोदिया के पुत्र- पुत्री को सुयश
मध्य प्रदेश लेखक संघ के देवास जिलाध्यक्छ श्री योगेंद्र सिसौदिया के पुत्र राहुल सिसौदिया ने बी एस सी सेकंड ईयर कंप्युटर साईंस में ७५ प्रतिशत अंक प्राप्त कर शानदार सफ़लता प्राप्त की और के पी कालेज में तीसरा स्थान हासिल किया। इसी प्रकार श्री सिसोदिया की सुपुत्री प्रतिग्या सिसोसौदिया ने एम एस सी माईक्रोबायलोजी में ७० % अंक प्राप्त कर के पी कालेज में दूसरा स्थान प्राप्त किया।
   महासंघ के संचालक डा.आलोक दयाराम ने दोनों को बधाई देते हुए उज्वल भविष्य की कामना की कामना की है। (फ़ोटो उपलब्ध नहीं।) फ़ोटो भेजें।
-------------------------------------------------------------------------
पिपलोन कलां के सौलंकी नगर भाजपा अध्यक्छ बने
    श्री अशोक कुमार सौलंकी निवासी पिपलोन कलां तेहसील आगर जिला शाजापुर भाजपा संगठन चुनाव के अंतर्गत नगर अध्यक्छ मनोनीत किये गये। समाज सेवी मृदु भाषी श्री सौलंकी को भाजपा जनों और मित्र मंडल ने बधाई दी है। इस अवसर पर श्री सौलंकी ने कहा कि कांग्रेस की भारतीय  संस्कृति विरोधी और अल्पसंख्यको की तुष्टिकरण नीति का  का मुहंतोड जवाब दिया जाएगा।-----------------------------------------------------------------------
श्री मती पंवार मंडल भाजपा महा मंत्री बनीं।
माकडोन-  श्री मती सुमित्रा पति श्री कन्हैयालाल पंवार माकडोन नगर पंचायत के चुनाव में पार्षद नि्र्वाचित हुईं थी। आप भाजपा की समर्पित कार्यकर्ता रहीं हैं। इनकी पार्टी में सक्रियता का मूल्यांकन करते हुए तराना मंडल भाजपा के महामंत्री पद पर सुशोभित किया है।  समाज जनों और भाजापा जनों ने आपको बधाई दी है। महिलाओं की राजनीति में सहभागिता समाज के लिये शुभ संकेत है।कृपया फ़ोटो भेजें।
......................................................